Home उत्तराखण्ड डाॅक्टरो में डयूटी के साथ सेवा भाव भी हो तो मरीजों को...

डाॅक्टरो में डयूटी के साथ सेवा भाव भी हो तो मरीजों को नई ताकत मिलती है: सीएम

49
0
SHARE

देहरादून। मैक्स अस्पताल के पूरी टीम को छठे वार्षिक दिवस की बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि मैक्स अस्पताल देहरादून की वर्तमान एवं भविष्य की आवश्यकताओं को पूरा करने का प्रयास कर रहा है। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि डाॅक्टरो में डयूटी के साथ यदि सेवा भाव भी जुड़ जाए तो मरीजों को एक नई ताकत मिलती है।
उन्होंने कहा कि राज्य सरकार जल्द ही आयुष्मान भारत योजना के तहत राज्य के सौ प्रतिशत परिवारों को बीमा योजना का लाभ देने जा रही है। राज्य में हिमनी, घेस जैसे दूरस्थ गांवो तथा 37 अस्पतालों को टेलीमेडिसन व टेलीरेडियाॅलाॅजी के माध्यम से देश विदेश के सुपर स्पेशिलिटी अस्पतालों व विशेषज्ञो से जोड़ा गया है। सरकार तकनीक के माध्यम से दूरस्थ क्षेत्रों में स्वास्थ्य सुविधाएं पहुचाने पर गम्भीरता से कार्य कर रहे है। राज्य के दूरस्थ एव दुर्गम क्षेत्रों में पर्याप्त संख्या में डाॅक्टरों की तैनाती सुनिश्चित की जा रही हैं। डाॅक्टरो को भी दूरस्थ क्षेत्रों में अपनी सेवाऐ देने के लिए तत्पर रहना चाहिए। यह उनकी नैतिक जिम्मेदारी भी है।
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि पलायन आयोग ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि राज्य के 740 गांवो मे पूरी तरह पलायन हो चुका है। हम अपेक्षा करते है कि इन गावों को पुनः बसाने हेतु औद्योगिक संस्थान, विश्वविद्यालय, अस्पताल व बड़े संस्थान तत्परता से आगे आएगे। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने पूरी तरह पलायन से विरान हुए इन गांवों को पुनः बसाने हेतु सभी से सुझाव आमत्रिंत किए। इस अवसर पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट भी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here