Home उत्तराखण्ड अमीरी की चाहत ने बनाया कातिल, चढ़े उत्तराखण्ड पुलिस के हत्थे

अमीरी की चाहत ने बनाया कातिल, चढ़े उत्तराखण्ड पुलिस के हत्थे

30
0
SHARE

किच्छा। ऊधमसिंहनगर मर्डर केस के बारे में आप तो जानते ही होंगें। 03 मई को सुबह करीब दस बजे दिन-दहाड़े आदित्य चैक पर कुछ अज्ञात लोगों द्वारा प्रापर्टी डीलर समीर अहमद निवासी वार्ड नं0-06 जनपद ऊधमसिंहनगर की गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी। घटना के खुलासे के लिए रुएसएसपीऋडॉ0ऋसदानन्दऋदाते ने बिना समय गवायें एसपी सिटी व एसपी क्राईम की एक संयुक्त टीम का गठन किया। तथा घटना स्थल एवं उसके आसपास के स्थानों के सीसीटीवी फुटेज खंगाले गये, संदिग्धों से पूछताछ की गई। साथ ही जनपद से लगे उत्तर प्रदेश के जनपदों में भी जांच पड़ताल की गई तथा वहां के बदमशों की कुन्डली खंगाली गई। आखिर पुलिस की यह मेहनत रंग लायी और शूटर सुखदेव सिंह और अंग्रेज सिंह को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से हत्याकाण्ड में इस्तेमाल किया गया पिस्टल भी बरामद किया गया। सुखदेव सिंह ने अपना जुर्म कबूल किया व बताया कि समीर की हत्या उन्होने तीन लाख रुपये में जसविंदर सिंह व उसके पुत्र राजा के कहने में की थी। पुलिस द्वारा जसविन्दर सिंह को गिरफ्तार किया गया। जसविंदर सिंह ने अपने बेटे राजा के माध्यम से इस काम को अंजाम दिया था, जो अभी फरार। साथ ही बताया कि समीर प्रापर्टी डीलिंग में हमारा पर्टनर हैं तथा समीर की दिल्ली व उत्तराखण्ड में बहुत सी प्रापर्टी है, जिसे हड़पने के लिए हमने यह हत्या काण्ड की योजना बनाई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here