Home उत्तराखण्ड इस मंदिर में चढ़ाते हैं घंटी और त्रिशूल

इस मंदिर में चढ़ाते हैं घंटी और त्रिशूल

41
0
SHARE

उत्तराखंड के कुमाऊं में आस्था का केंद्र कहे जाने वाले मनकामेश्वर मंदिर रानीखेत बस स्टैंड से 500 मीटर की दूरी पर स्थित एक धार्मिक एवं पवित्र मंदिर है। यह धार्मिक मंदिर रानीखेत में नरसिंह मैदान के बगल में स्थित है। स्थानीय लोगों के अनुसार मनकामेश्वर मंदिर का निर्माण 1978 में कुमाऊ रेजिमेंटल सेण्टर के द्वारा किया गया था और यह स्थान रानीझील के निकट सेना छावनी क्षेत्र में स्थित हैं एवं ंमंदिर के निकट रानीझील स्थित है। इस मंदिर में भगवा

न शिव , माँ कालिका एवम् राधा कृष्ण की मूर्ति स्थापित है एवम् यह मंदिर देवधार और चीड़ के पेड़ो से घिरा होने के कारण मंदिर की सुन्दरता अर्थात प्राकर्तिक सुन्दरता पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती हैं। पर्यटक गुरुद्वारा और ऊनी वस्त्र कारखाने का भी दौरा कर सकते हैं, जो कि मंदिर के पास स्थित है। पौराणिक कथा के अनुसार यदि जो कोई भक्त या श्रद्धालु इस मंदिर में सच्चे मन से मनोकामना करता है, उसी मनोकामना जल्द ही पूरी हो जाती है और भक्त मनोकामना पूरी होने के बाद मंदिर में भेट स्वरुप घंटी एवं त्रिशूल आदि भेट करते है। हर साल जन्माष्टमी के पर्व पर मंदिर में कुमाऊ रेजिमेंटल के जवानों के द्वारा झाखिया प्रस्तुत की जाती है और मंदिर में विशाल भंडारे का आयोजन भी किया जाता है। मनकामेश्वर मंदिर आसानी से पहुंचा जा सकता है क्योंकि यह रानीखेत से केवल 1 किमी दूर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here