Home उत्तराखण्ड साल की अंतिम अरदास के साथ हेमकुंड साहिब के कपाट हुए बंद

साल की अंतिम अरदास के साथ हेमकुंड साहिब के कपाट हुए बंद

112
0
SHARE

साल की अंतिम अरदास के साथ हेमकुंड साहिब के कपाट हुए बंद

सिखो के प्रसिद्ध धाम हेमकुंड साहिब के कपाट आज शीतकाल के लिए बंद कर दिए गए हैं इस दौरान हजारों की संख्या में श्रद्धालुओं ने हेमकुंड साहिब में माथा टेक कर अपनी मनोकामनाएं मांगी ठीक 1:30 मिनट पर साल की अंतिम अरदास पूरी होने के साथ ही हेमकुंड साहिब के कपाट बंद हो गए है इससे पहले हेमकुंड साहिब मे गुरुवाणी के साथ भजन का आयोजन हुआ साथ ही 1 बजे से साल की अंतिम अरदास पड़ी गई

सप्त श्रृंखलाओं में बसे हेमकुंड साहिब के दर्शन करने के लिए आज पंजाब राज्य से हजारों सिख श्रद्धालु हेमकुंड साहिब पहुंचे और आज कपाट बंद होने के साक्षी बने

45 मीटर की ऊंचाई पर बसा हेमकुंड साहिब में गुरु गोविंद सिंह का का धाम है जो कि मई माह से अक्टूबर माह तक श्रद्धालुओं के लिए दर्शनों के लिए खोल दिया जाता है 4 माह तक चली इस कठिन यात्रा में सिख श्रद्धालु हजारों की संख्या में गुरु गोविंद सिंह के धाम पहुंचते हैं और अपनी मनोकामना ओं को गुरु गोविंद सिंह से पूरी करने की लालसा भी रखते हैं

कठिन यात्रा के बाद जो भी सिख श्रद्धालु हेमकुंड साहिब पहुंचता है वह अपने आप को धन्य मानता है और हेमकुंड साहिब की तुलना स्वर्ग से करता है
इस बार हेमकुंड साहिब में 229530 तीर्थ यात्रियों ने दर्शन किए हैं और सितंबर माह से यहा पर बर्फ भी गिर रही है जिसके बाद धाम मे कड़ाके की ठंड़ भी पड़ने लगी है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here