Home उत्तराखण्ड संस्कृति की बेटी मानी जाती है हिन्दी

संस्कृति की बेटी मानी जाती है हिन्दी

84
0
SHARE

संस्कृति की बेटी मानी जाती है हिन्दी

14 सितंबर आज के दिन को हिंदी भाषा दिवस के रूप में मनाया जाता है इस दौरान सरस्वती विद्या मंदिर में हिंदी दिवस पर एक गोष्ठी एवं निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया स्कूली बच्चों ने हिन्दी भाषा के महत्व को समझा
वही इस अवसर पर हिंदी के अध्यापक शरदा प्रसाद ने बच्चों को हिंदी और उसके इतिहास के बारे में बताया स्कूली बच्चों का कहना है कि जो हमारी हिंदी भाषा है उसे एक नई पहचान एवं नई दिशा मिलनी चाहिए ताकि हिंदी का महत्व पूरे विश्व में प्रचारित हो सके आज हिंदी का प्रयोग आम बोलचाल की भाषा में ही प्रयोग किया जा रहा है जबकि अंग्रेजी भाषा हमारे पठन पाठन से लेकर सरकारी कामकाजों में एक पहचान बना चुकी है हिंदी के घटते महत्व पर भी स्कूली बच्चों ने गहरा चिंतन किया
स्कूली बच्चों का कहना है कि सरकार को हिंदी के महत्व को और अधिक तरीके से बढ़ाना चाहिए इसे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर एक नई पहचान मिलनी चाहिए

हालांकि ऐसा नहीं है कि आज हिंदी पूर्ण रूप से समाप्ति की तरफ हो कहीं स्कूल एवं सरकारी संगठन हिंदी भाषा को बचाने के लिए प्रयास कर रहे हैं इसीलिए तो हिंदी में भोजन मंत्र और अन्य प्रार्थनाएं भी स्कूलों में आयोजित की जा रही है ताकि स्कूली बच्चों को हिंदी का महत्व पता चल सके

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here