Home उत्तराखण्ड सावन का पहला दिन थराली पर भारी

सावन का पहला दिन थराली पर भारी

159
0
SHARE

सावन का पहला दिन थराली पर भारी

जनपद चमोली मे सावन मास की शुरुआत कुछ सही नही हुई सोमवार को सुबह बारिश यहा कहर बन कर बरसी और नारायणगढ़ और घाट मे बादल फटा
देर रात को कुंडी गांव और धारडंबगड में बादल फट गया। इसकी वजह से कई घर, दुकान, मवेशी और गाड़ियां मलबे में दब गई हैं। हालांकि अबतक जनहानि की कोई सूचना नहीं है। मौके में प्रशासन टीम मानवीय सहायता पहुंचा रही है।

बताया जा रहा है कि बादल फटने के करीब एक घंटे बाद आपातकालीन परिचालन केंद्र में स्थिति की समीक्षा करने के बाद थराली आइआरएस टीम को तुरंत राहत बचाव के लिए रवाना होने के निर्देश दिये गए। लेकिन बताया जा रहा है कि राहत-बचाव के लिए टीम मौके पर करीब साढे सात बचे पहुंची थी। प्रशासन ने बताया कि मार्ग अवरुध होने की वजह से मौके पर पहुंचने में देरी हुई है। टीम को रास्ते खोलते हुए मौके पर पहुंचना पड़ा।

बताते चलें कि उत्तराखंड में मौसम के तेवर अगले एक-दो दिन तल्ख रहने वाले हैं। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में राज्य के सात जिलों में भारी और बहुत भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। पिछले दिनों हुई तबाही की वजह से प्रदेश के कई मोटर मार्ग बंद हैं।

थराली विधानसभा के कुंडी गांव घाट ब्लॉक में बादल फटने के बाद मौके पर चमोली एसडीएम परमानंद, चमोली थाना प्रभारी दीपक रावत, तहसीलदार सोहन सिंह के अलावा एसडीआरएफ पहुंची है। एसडीआरएफ की 6 सदस्यीय दल राहत-बचाव कार्य में जुटी है। यहां 6 गौशाला, 6 से 7 मकान, 12 से ज्यादा मवेशी मलबे के चपेट में आ गये हैं।

वहीं थराली ब्लॉक के धारडंबगड में बादल फटने के बाद आपदा प्रबंधन विभाग का एक दल रेस्क्यू के लिए पहुंचा है। यहां 6 गाड़ियों और तीन मोटर साइकिल बहने की जानकारी है। इसके अलावा 2 से 3 मकान और 10 दुकानें मलबे की चपेट में आ गई हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here