Home अजब-गजब भ्यूंडार घाटी में खिला दिव्यपुष्पः ब्रह्मकमल

भ्यूंडार घाटी में खिला दिव्यपुष्पः ब्रह्मकमल

192
0
SHARE

नितिन सेंमवाल जोशीमठ
उत्तराखंड के चमोली जिलें में स्थित खूबसूरत भ्यूंडार घाटी के अटला कोटी,लोकपाल हेमकुंड साहिब के पैदल मार्ग पर दोनों तरफ इनदिनों राज्य पुष्प ब्रह्मकमल खिल चुका है,इस दिव्य पुष्प की खुश्बु से पूरी भ्यूंडार घाटी महक रही है,लोकपाल हेंमकुंड की यात्रा करने आये तीर्थयात्रियों एंव देशी विदेशी पर्यटकों को इस रूट पर दुर्लभ राज्य पुष्प ब्रह्मकमल का आकर्षण लुभा रहा है। सिसूरिया आब्लेटा नाम का यह पुष्प पर्यटकों को लोकपाल तीर्थ की खडी चढ़ाई की थकान तक मिटा दे रहा है।
उच्च हिमालयी क्षेत्रों में खिलने वाला ब्रहमकमल का फूल सफेद हल्के पीले रंग का होता है। यह उत्तराखंड का राज्य पुष्प भी है। एक साथ कई क्षेत्र में खिले होने के चलते इसकी खूबसूरती और भी बढ़ जाती है। इस पुष्प का वान्सपतिक नाम सोसेरिया औब्लेटा है,इनमें से अकेले उत्तराखंड में इस पुष्प की 58 प्रजातियां मौजूद हैं।

यहां पाया जाता है ब्रह्मकमल
पंचकेदार, पांगरचुला, भनाई, कागभुषंडी, सहस्रताल, नंदीकुंड, केदारनाथ, फूलों की घाटी, हेमकुंड साहिब, सतोपंथ ऋषिकुंड,देंवागन डयाली सेरा आदि स्थानों पर यह दिव्य पुष्प खिलता है। वहीं जापानी पर्यटकों को यह पुष्प काफी लुभा रहा है, समुद्रतल से करीब 13 हजार फिट से ऊपर उगनें वाला यह दिव्य पुष्प अपनें औषिधीय गुणों के चलते काफी लोकप्रिय है, यह माह जुलाई से सितम्बर तक के समय ही उच्चहिमालय में दिखता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here