Home उत्तराखण्ड कर्ज बना प्रापर्टी डीलर की मौत की वजह

कर्ज बना प्रापर्टी डीलर की मौत की वजह

12
0
SHARE

हल्द्वानी। रात सुसाइड नोट लिखकर एक प्रापर्टी डीलर ने हनुमान जी मूर्ति के सामने जा दे दी। मौत का पता तब लगा जब सुबह लोग मंदिर में पूजन के लिए पहुंचे। इस खबर ने पूरे इलाके में हड़कंप मचा दिया। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव की जेब से एक सुसाइड नोट बरामद किया है। जिसमें उसने अपनी मौत का जिम्मेदार खुद को बताया है। साथ ही लिखा है कि उसकी मौत के लिए किसी को परेशान न किया जाए। माना जा रहा है कि इस आत्महत्या के पीछे कर्ज एक वजह हो सकती है। फिलहाल पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
बिठौरिया नंबर दो चंद्र फार्म निवासी कैलाश पांडे (32) पुत्र कृष्णा नंद पांडे पेशे से प्रापर्टी डीलर है। घर में सबसे छोटा कैलाश का भाई दयाल पांडे उप प्रधान है। बताया जाता है कल शाम किसी काम से घर से निकले कैलाश लौट कर नहीं आए। सुबह उनकी बाइक कटघरिया स्थित हैड़ाखान मंदिर के बाहर खड़ी दिखाई दी। सुबह जब लोग मंदिर में पूजन करने पहुंचे तो अंदर का नजारा देख कर उनके होश फाख्ता हो गए। उन्होंने देखा कि मंदिर के अंदर हनुमान जी की मूर्ति के सामने एक युवक पड़ा हुआ। जिसके मुंह से झाग निकल रहा था। लोगों ने उसे हिला डुला कर देखा, लेकिन शरीर में कोई हरकत नहीं हुई। जिसके बाद लोगों ने घटना की सूचना पुलिस को दी। आनन फानन मौके पर पहुंची पुलिस ने शव की शिनाख्त शुरू कराई, लेकिन मौके पर शिनाख्त करने वाला कोई नहीं मिला। पुलिस ने शव की जामा तलाशी ली तो जेब से एक सुसाइड नोट बरामद हुआ। जिसके जरिये शव की शिनाख्त कैलाश के नाम से की गई। शिनाख्त के बाद पुलिस ने परिजनों को घटना की जानकारी दी। मौके पर पहुंचे परिजन बेटे के लाश देखकर गमगीन हो गए। जेब में मिले सुसाइड नोट में कैलाश ने लिखा था कि अपनी मौत का जिम्मेदार वह खुद है। उसकी मौत के लिए किसी को परेशान न किया जाए। उसका जो भी लेन देन है वह सुभाष करेगा। हालांकि अभी यह पता नहीं लग सका है कि कैलाश ने सुसाइड नोट में जिस सुभाष का जिक्र किया है वह कौन है और कैलाश किस लेनदेन की बात कर रहा है। फिलहाल यही अनुमान लगाया जा रहा है कि कैलाश ने कर्ज के चलते ही जान दी है।
बीती देर रात एसपी सिटी अमित श्रीवास्तव टीम के साथ गश्त पर थे। गश्त करते हुए वह कटघरिया स्थित हैड़ाखान मंदिर भी पहुंचे थे। जहां उन्होंने मंदिर के बाहर एक बाइक खड़ी देखी थी। बाइक देखते ही एसपी सिटी मौके पर रुके और टार्च जला कर उन्होंने मंदिर के अंदर भी देखा, लेकिन कोई दिखाई नहीं दिया। इधर, सुबह खबर आई कि मंदिर में एक युवक ने जान दे दी है और वह बाइक उसी युवक की थी। हालांकि पुलिस मान रही है कि जब वह रात मंदिर पहुंचे तो हो सकता है कि पुलिस को देखकर कैलाश छिप गया हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here