Home उत्तराखण्ड आशीष भुजवाण ने दी मानवता की मिसाल

आशीष भुजवाण ने दी मानवता की मिसाल

328
0
SHARE

औली। माह अप्रैल 2018 में विश्व प्रसिद्ध पर्यटन स्थल औली में एक मोबाइल वीवो कंपनी का वी5 मॉडल जिसकी कीमत लगभग अठारह हजार रुपये हैं, रास्ते में पड़ा हुआ मिला । उनके द्वारा आस पास के पर्यटकों से पूछने पर कोई जवाब नहीं मिला। जब उन्होंने मोबाइल चार्ज कर के उसको खोलना चाहा तो उस पर सुरक्षा लॉक लगा हुआ मिला और लॉक स्क्रीन पर एक नाम दिखाई दिया सौरभ कुकरेती, उन्हें लगा शायद फोन पर कोई कॉल करेगा तो वे उसका जवाब देकर उनको बता देंगे, तब तक शायद सौरभ कुकरेती ने अपना सिम ब्लॉक करवा दिया होगा। अब किस तरह से खोए हुए व्यक्ति का मोबाइल उन तक पहुँचाया जा सके वे यही सोचते रहे। फिर उन्होंने उसका सिम निकाल कर अपने मोबाइल में इसलिए लगाया ताकि कोई संपर्क प्राप्त हो सके लेकिन सिम में केवल एक दो ही नंबर प्राप्त हुए, इस प्राप्त नंबर पर कॉल करने पर उन को यह जानकारी प्राप्त हुई कि पिछले माह सौरभ औली आए थे। तभी उनका फोन कहीं खो गया था। 20 मई को सौरभ कुकरेती जो कि दिल्ली के रहने वाले हैं से संपर्क हुआ। उससे उसका पता पूछ कर आज वे उनका मोबाइल पोस्ट कूरियर के द्वारा मेरे समक्ष भिजवा रहे हैं। सच में आशीष ने अतिथि देवो भवः की मर्यादा रखते हुए दिल्ली के पर्यटकों को उनका मोबाइल पहुंचाया है। उनका कहना है कि मानवता ही श्रेष्ठ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here