Home उत्तराखण्ड इंदिरा हृदेश ने मृतक किसान के परिजनों को दी आर्थिक सहायता राशि

इंदिरा हृदेश ने मृतक किसान के परिजनों को दी आर्थिक सहायता राशि

36
0
SHARE

दीपक भारद्वाज
सितारगंज। सितारगंज में बीती 18 मई को बैंक के कर्ज में डूबे ग्राम बिज्टी के किसान खुदखुशी मामले में आज नेता प्रतिपक्ष पहुंची मृतक किसान के घर। परिवार का बंधाया ढांढस। 50000 की नकद सहायता राशि के साथ किसान की बेटी को दिलाया नौकरी दिलाने का भरोसा।
सितारगंज बिज्टी गाँव 54 वर्षीय मुख्त्यार सिंह पुत्र कर्म सिंह किसान द्वारा खुदखुशी के मामले में आज नेता प्रतिपक्ष डॉ इंदिरा हृदेश मृतक किसान के घर पहुंची और पीड़ित परिवार सांत्वना दिलाई। नेता प्रतिपक्ष ने परिवार के हालात देख आर्थिक सहायता के तौर पर 50000 रूपए नकद प्रदान किये और साथ ही किसान की शादी लायक हो चुकी तीन बेटियों में से बी एड कर चुकी एक बेटी को नौकरी दिलाने का भरोसा दिया। मौके पर मौजूद कांग्रेस पार्टी सितारगंज के मंडी चेयरमैन हरपाल सिंह को भी संभवता जो मदद हो सके दिलाने को कहा। साथ ही नेता प्रतिपक्ष ने कृषि मंत्री सुबोध उनियाल से फोन पर बार्ता कर पीड़ित परिवार को सहायता देने की बात कही। वहीँ डॉ हृदेश ने कहा प्रदेश में यह लगभग 9वीं घटना है हल्द्वानी के ट्रांसपोर्टर प्रकाश पाण्डेय खुदखुशी मामले का हवाला देते हुए नेता प्रतिपक्ष ने कहा जब तक पाण्डेय की बॉडी रक्खी थी डीएम ने खुद कहा बाद में न पैसा दिया और न नौकरी दी हमने 9 लाख रूपए पाण्डेय के परिवार को दिए और नौकरी दी। साथ ही उन्होंने कहा सरकार कहती है कर्ज माफ करेंगे कर्ज तो क्या माफ करेंगे जो इन्होंने कहा था किसान की उपज का मूल्य और 2.5 गुना उपज का लाभ देंगे लाभ तो क्या देंगे उपज का मूल्य ही दे दे। भाजपा सरकार किसानो की सुध नहीं ले रही किसान देश के अन्नदाता है इनकी अनदेखी के कारण ही एक तो उपजाऊ भूमि कम होती जा रही है साथ ही किसानो का रुझान खेती के प्रति कम रो रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here