Home उत्तराखण्ड अतिक्रमण हटाओं अभियान: व्यापारियों ने किया बेमियादी बाजार बंद

अतिक्रमण हटाओं अभियान: व्यापारियों ने किया बेमियादी बाजार बंद

47
0
SHARE

रुद्रपुर। बीती शाम सिब्बल सिनेमा रोड पर हुई अतिक्रमण हटाओ अभियान की कार्रवाई का विरोध करते हुए रविवार से व्यापारियों ने बेमियादी बाजार बंद कर दिया है। अलबत्ता बंद के आह्वान के पहले दिन ही बाजार बंद कराने में व्यापार मंडल के पदाधिकारियों को पसीने छूट गए। खासी मशक्कत के बाद बाजार की अधिकतर दुकानें बंद हो गई, मगर कुछ व्यापारी ऐसे भी थे जिन्होंने अपनी दुकानें खोल कर बंद का खुल कर विरोध किया।
गौरतलब है कि बीती शाम प्रशासन ने सिब्बल सिनेमा रोड पर अतिक्रमण हटाया था। जिसमें दुकानों के आगे बने चबूतरों को ध्वस्त कर दिया था। इस दौरान वहां नगर निगम की टीम का विरोध हुआ। बाद में प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल एवं देवभूमि व्यापार मंडल ने अनिश्चितकाल के लिए बाजार बंद का आह्वान किया तथा इसकी बाजार में मुनादी करा दी। रविवार को सुबह ही व्यापारी नेता बाजार में समूह बना कर निकले, क्योंकि काफी संख्या में व्यापारियों ने दुकानें खोल ली थी। व्यापारी नेता लगातार पैदल बाजार में घूमते रहे तथा खुली दुकानों को बंद कराते रहे। सिब्बल सिनेमा रोड पर जहां कल अतिक्रमण हटाया गया था वहां अधिकतर व्यापारियों ने दुकानें खोल रखी थीं और इन व्यापारियों ने व्यापार मंडल के दुकानें बंद करने के आग्रह को भी ठुकरा दिया। हालांकि काफी जद्दोजहर के बाद कुछ ने दुकानें बंद कर ली। व्यापारी नेता दो ढाई घंटे की मशक्कत के बाद दुकानें बंद करा पाए। फिर भी कुछ दुकानदारों ने दुकानें खोल कर उनके बाजार बंद के निर्णय पर विरोध जताया।
व्यापारियों का कहना है कि हाईकोर्ट के आदेश पर प्रशासन अतिक्रमण हटा रहा है, लेकिन अतिक्रमण हटाने में मनमानी की जा रही है। आरोप लगाया कि अफसर व्यापारियों से अभद्रता कर रहे हैं। व्यापारियों का कहना है कि बाजार में बड़ी संख्या में सेफ्टी टैंक बने हैं। प्रशासन जिस तरह अतिक्रमण को ध्वस्त कर रहा है, उससे सेफ्टी टैंक का दूषित पानी सड़क पर आ रहा है, जिससे वातावरण दुर्गंधमय हो रहा है। कहा कि व्यापारियों के सेफ्टी टैंक नहीं तोड़े जाने चाहिए। इस दौरान व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष राजेश बंसल, देवभूमि व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष गुरमीत सिंह, व्यापार मंडल के नगर अध्यक्ष संजय जुनेजा, महामंत्री हरीश अरोरा, देवभूमि व्यापार मंडल के नगर अध्यक्ष हरजिंदर सिंह हरजी, अंकित अग्रवाल, अमित अरोरा बॉबी, विजय फुटेला, सुरेंद्र सिंह समेत बड़ी संख्या में व्यापारी मौजूद थे। व्यापार मंडल अध्यक्ष संजय जुनेजा ने कहा कि जिला प्रशासन रुद्रपुर शहर को बर्वाद करने पर आमादा है, जिसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
नेताओं से नोंकझोंक
कुछ व्यापारियों ने पुलिस को सूचना दी कि व्यापारी नेता जबरन उनकी दुकानें बंद करा रहे हैं, जिस पर कोतवाल कैलाश चंद्र भट्ट मय फोर्स के बाजार पहुंच गए। कोतवाल ने कहा कि जो व्यापारी स्वेच्छा से दुकानें बंद रखना चाहते हैं वह रखें, लेकिन जो व्यापारी दुकानें खोलना चाहते हैं उन्हें पूरी सुरक्षा दी जाएगी। इस दौरान कोतवाल की बाजार बंद करा रहे नेताओं से भी नोंकझोंक हुई। कोतवाल बाजार में गश्त करते रहे, ताकि किसी व्यापारी को जबरन परेशान न किया जाए। बाटा चैक पर कोतवाल की मौजूदगी में एक दुकान खोली गई।
सेफ्टी टैंक टूटने से व्यापारी ज्यादा परेशान हैं। दरअसल, बाजार में काफी संख्या में व्यापारियों ने फुटपाथ की जमीन पर ही सेफ्टी टैंक सालों पहले बनवाए थे। अब प्रशासन यदि अतिक्रमण हटाता है तो सेफ्टी टैंक भी नहीं बच रहे हैं। सेफ्टी टैंक टूटेंगे तो बाजार में गंदगी फैलनी तय है। सेफ्टी टैंक बचाने के लिए व्यापारी सड़क पर आ गए हैं। हालांकि नगर निगम प्रशासन फुटपाथ की पटरी बनाने की बात कर रहा है, लेकिन सेफ्टी टैंक हटे बगैर फुटपाथ की पटरी कैसे बन पाएगी। यदि सेफ्टी टैंक हटेंगे तो व्यापारी जाएंगे कहां? विरोध की दूसरी वजह यह है कि ज्यादातर व्यापारियों ने सड़क पर ही सबमर्सिबल के बोरिंग करा रखे हैं। यदि वह हटाए जाएंगे तो लोगों को पानी की किल्लत हो जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here