Home उत्तराखण्ड अतिक्रमण हटा रही टीम से किसकी हुई नोंकझोंक जाने पूरी घटना…

अतिक्रमण हटा रही टीम से किसकी हुई नोंकझोंक जाने पूरी घटना…

28
0
SHARE

रुद्रपुर। पूर्व मेयर के पति व भाजपा नेता सुरेश कोली अतिक्रमण हटा रही टीम से भिड़ गए तथा जेसीबी के आगे लेट गए। इस दौरान उनकी पुलिस से तीखी नोंकझोंक हुई। उनका कहना था कि व्यापारियों को इस तरह बर्वाद नहीं होने दिया जाएगा, हुआ यह है कि जब टीम मुख्य बाजार में अतिक्रमण हटाने को उतरी तो पूर्व मेयर के पति सुरेश कोली जेसीबी के आगे लेट गए। उन्होंने कहा कि व्यापारियों की दुकानें इस तरह नहीं तोड़ी जानी चाहिए। नगर निगम प्रशासन को पहले कोई योजना बनानी चाहिए, उसके बाद कोई कार्रवाई करती। नगर निगम ने मेजरमेंट तक नहीं कराया है। कोली के जेसीबी के आगे लेटने पर पुलिस कर्मियों ने उन्हें हटाना चाहा, मगर वह व्यापारियों के हितों की रक्षा के लिए अपनी जान पर खेल गए। कई पुलिस कर्मियों ने बामुश्किल उन्हें जबरन जेसीबी के आगे से हटाया। इस दौरान विधायक ठुकराल भी बीच में आ गए। उन्होंने कहा कि बरसात आने वाली है। यदि जेसीबी से सेफ्टी टैंक खोदे जाएंगे तो महानगर में महामारी फैल जाएगी। इस स्थिति में कारोबार चैपट हो जाएगा। लोग बाजार आएंगे ही नहीं तो इसकी जिम्मेदारी किसकी होगी। उन्होंने सांकेतिक तोडफोड़ करने को कहा।

विधायक जिम्मेदारी लेते रहे, मगर प्रशासन ने नहीं मानी
वहीं दूसरी ओर विधायक राजकुमार ठुकराल ने पूरे अभियान के दौरान अपनी वाणी पर संयम रखा। अलबत्ता उनके चेहरे से आक्रोश जरूर झलक रहा था। उन्होंने कहा कि पहले गारंटी लेते हैं कि एक लेबिल में सभी चबूतरे बन जाएंगे, इसलिए व्यापारियों का नुकसान न किया जाए।
विधायक ठुकराल अभियान शुरू होते ही पहुंच गए थे। उन्होंने कहा कि एक सिरे से अभियान चले। दरअसल, नगर निगम टीम ने सबसे पहले देव भूमि व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष गुरमीत सिंह की दुकान पर जेसीबी लगा दी थी। विधायक चाहते थे कि कांग्रेसी नेता की दुकान चूंकि पहले थी इसलिए वहां से अभियान चले। आखिर उनके मन की हुई और पहले कांग्रेस नेता इंद्रजीत सिंह की दुकान के आगे से अतिक्रमण हटाया गया। चारों तरफ लगे कैमरों के बीच ठुकराल ने अपनी वाणी पर खासा नियंत्रण रखा और सहज तरीके से व्यापारियों की बात रखी। पहले उन्होंने व्यापारियों को मोहलत देने की मांग रखी, फिर उन्होंने सेफ्टी टैंक न तोडने की बात कही, बल्कि सांकेतिक अभियान चलाने को कहा। हालांकि नगर आयुक्त जय भारत सिंह ने कहा कि व्यापारियों को इतना समय दिया गया, मगर उन्होंने खुद अतिक्रमण नहीं हटाया इसलिए अभियान नहीं रुकेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here